Wednesday, October 31, 2012

An unsuccessful attempt - A poem

एक नाकाम सी कोशिश ( An unsuccessful attempt)

Source: Google Images
Thats Me -Basking in love!!



कुछ अनकही सी बातें तुम्हे समझाने की एक नाकाम सी कोशिश करते है,
बहुत कुछ कहना है तुमसे न जाने किस बात से डरते है।

इन् गहरी आँखों मैं जब काजल लगते है,
कोई नया सपना तुम्हारे नाम का सजाते है।

हर सुबह इन् जुल्फों से पानी झटक कर यु ;
तुम्हे उठाते है नजाने क्यों?
महसूस करते है तुम्हारी  साँसों को;
जैसे तुम हर पल मेरे आस पास हो।

कभी कभी बिन बात के युही तुमसे लड़ते है -
कुछ अनकही सी बातें तुम्हे समझाने की एक नाकाम सी कोशिश करते है,
बहुत कुछ कहना है तुमसे न जाने किस बात से डरते है।

रुठते रहते है तुमसे ताकि तुम मानते रहो,
चाहते है हम भी कुछ सुनना ; चाहते है तुम भी कुछ कहो।
अचानक से एक भीड़  मैं तुम्हे धुन्ड़ता पाते  है,
फिर एक बार वोही मदहोशी महसूस करना कहते है।

रात को  तुम्हारी बाँहों मैं  लिपटे जब हम सोते है,
एक खूबसूरत से ख्वाब को जीते हम होते है।

तुम्ही से जीते है और तुम्ही पर तो मरते है -
कुछ अनकही सी बातें तुम्हे समझाने की एक नाकाम सी कोशिश करते है,
बहुत कुछ कहना है तुमसे न जाने किस बात से डरते है।

P.S: My sincere apologies - I tried a lot to translate it, but the magic simply refused to get created in English!!

4 comments:

  1. Achchie aurm miettie kavithaa. merebhi man mein aathaa hein Hindi mein kuchch likhna. na jaane kis bath se dartie hoom.

    ReplyDelete
    Replies
    1. :)

      Shukriya!!

      Well I would say you should try it.. would love to read it!

      Delete
  2. Likhne wale to bahut hain,
    Lekin jo feelings (jo jaan) tumne dala hai
    wo tumhare siwa koi aur nahi kar sakta.
    God bless you.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thats really very kind of you to say that, thanks so much :)

      Delete

Words are all that this blog is made of ~ From me to you,
And words are all that I crave for ~From you to me!